How to open an electric car charging station in India

How to open an electric car charging station in India के बारे में संपूर्ण जानकारी। एक इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोलने में कितना इनवेस्मेंट होगा। फ्यूचर क्या है।

How to open an electric car charging station in India

How to open an electric car charging station in India

Hello everyone स्वागत आप सभी का एक बार फिर से हमारी वेबसाइट earnidea पर। इस महत्वपूर्ण लेख में, मै आपको बताऊंगा how to open an electric car charging station in India के बारे में विस्तार से जानकारी देने वाले है।
इसके अलावा हम जानेंगे कि  इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोलने के लिए सरकार की क्या-क्या नियम है। और एक चार्जिंग स्टेशन खोलने की कितनी कॉस्ट रहेगी। यह सब हम इस आर्टिकल में पूरे विस्तार से जाने वाले हैं। तो अगर आप भी चार्जिंग स्टेशन खोलने की सोच रहे हैं। तो इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें। यहां पर आपको महत्वपूर्ण जानकारी मिलने वाली है।
दोस्तों हम सभी जानते है कि आज के समय में प्रदूषण इतना बढ़ गया है। जितना हम सोच भी नहीं सकते हैं। इसका मुख्य कारण डीजल इंजन पेट्रोल वाहन भी है। दिल्ली जैसे बड़े शहरों में इतना प्रदूषण बढ़ गए हैं कि आप दिल्ली के अंदर 1 दिन खुलेआम घूम ले तो 40 सिगरेट पीने के बराबर इंफेक्शन हो जाएगा इन प्रदूषण को कम करने के लिए सभी देश की सरकार इलेक्ट्रिक  वाहनों पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है। ताकि प्रदूषण को कम कर सकें इलेक्ट्रिक वाहनों पर सेंट्रल गवर्नमेंट सब्सिडी उपलब्ध करा रही है। भारत सरकार का लक्ष्य 2030 तक 20-30% इलेक्ट्रिक मार्केट में लाना जरूरी है।

इसके चलते आने वाले समय में पेट्रोल डीजल की गाड़ियां बंद होने वाली है। ओर आने वाला समय इलेक्ट्रिक वाहनों का होने वाला है। जैसे ही देश में इलेक्ट्रिक वहान बढ़ेंगे तो कहीं ना कहीं चार्जिंग स्टेशन की भी जरूरत पड़ने वाली है। क्यो की सब लोग तो अपने घर पर चार्ज नहीं कर सकते हैं ना। हाई वे पर चार्जिंग स्टेशन खोले जाएंगे। इस आर्टिकल में हम इसी बात पर चर्चा करने वाले हैं। की कैसे आप एक चार्जिंग स्टेशन खोल कर आने वाले समय में लाखों रुपए कमा सकते हैं। बात अवश्य ध्यान रखें यह बिजनेस आने वाले समय में बहुत तेजी से चलने वाला बिजनेस हो जाएगा।

How to open an electric car charging station in India


सबसे पहले हम जानते हैं कि charging station  क्या होती है।

What is electric charging station

इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन पेट्रोल पंप की तरह  ही होती है। जिसमें इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज किया जाएगा। जिस तरह से पेट्रोल पंप पर गाड़ी में पेट्रोल  भरा जाता है। उसी प्रकार से इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन पर गाड़ियों को चार्ज किया जाएगा। उसे ही इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन कहते हैं।

क्या क्या शर्तें है, इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोलने की।

तो हम आपको बता दें की केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण ( cea) की तरफ से गाइडलाइंस लाया गया है। इस गाइडलाइन के अनुसार बिजली की दरो को समझाया गया है। Cea के अनुसार चार्जिंग स्टेशन खोलने वाले व्यक्ति या कंपनी को बिजली लागत से 15 प्रतिशत ज्यादा चार्ज देना होगा। 

Goverment rule of electric public charging station


इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोलने वाले के लिए सरकार की तरफ से कुछ नियम लाए गए हैं। जिस को फॉलो करके एक चार्जिंग स्टेशन खोल सकते हैं। तो वह क्या-क्या नियम है हम आपको पूरे नियम बताने वाले हैं।

1. अभी आप उन शहरों में इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोल सकते हैं। जहां की आबादी 4000000 से ज्यादा है। जैसे - दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, पुणे, बेंगलुरु,  चेन्नई आदि महानगरों में आप इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोल सकते हैं।


2. 10 लाख से ज्यादा जनसंख्या वाले एरिया में भी इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोला जा सकता है।

3. हर तीन किलोमीटर पर एक चार्जिंग स्टेशन हो।


4. वही हाई वे रोड पर 20 से 25 किलोमीटर की दूरी पर एक चार्जिंग स्टेशन खोला जाएगा।


5. किसी भी प्रकार की लाइसेंस की जरूरत नहीं है। बस आपको बिजली विभाग से अनुमति लेनी पड़ेगी।


6. तीन फास्ट चार्जिंग लगाने होंगे, ओर दो स्लो चार्जिंग लगाने होंगे।


7. पब्लिक के लिए चार्जिंग स्टेशन खोलने वाले को ही सब्सिडी मिलेगी।


8. चार्जिंग स्टेशन खोलने वाले को ऑनलाइन सर्विस भी देनी होगी, जिससे ग्राहक ऑनलाइन बुकिंग से वाहन के चार्जिंग का समय बुक करा सकें।

9. चार्जिंग स्टेशन लगाने वाला व्यक्ति या कंपनी को ओपन एक्स तहत किसी भी बिजली वितरण कम्पनी से बिजली के सकता है। 

10. बिजली कंपनिया चार्जिंग स्टेशन के सप्लाई लागत से 15 प्रतिशत ज्यादा चार्ज कर सकेगी।

11. चार्जिंग स्टेशन शुरू करने के लिए ग्रीन सिग्नल देने का काम डिस्कॉम करेगा। 

15 . सब्सिडी की रकम चार्जिंग स्टेशन के आधार पर तय की जाएगी।

सरकार तीन प्रकार के चार्जिंग स्टेशन खोलने की अनुमति दे रही है।

पहली कैटेगरी में वे चार्जिंग स्टेशन शामिल होंगे जो सार्वजनिक स्थानों पर लगाए जाएगा।

दूसरी कैटेगरी में वह चार्जिंग स्टेशन शामिल होंगे जो हॉस्पिटल मंत्रालय सचिवालय और सरकारी इमारतों में लगाए जाएंगे।


तीसरी कैटेगरी में वह चार्जिंग स्टेशन शामिल होंगे जो गैर सर्जनिक जगहों पर लगाए जाएंगे। जो चार्जिंग स्टेशन शामिल होंगे जो पब्लिक के लिए कर्मिशयल तरीके से उपलब्ध होगा।
इसी आधार पर आपको सरकार के द्वारा आपको सब्सिडी मिलेगी।

Scope of electric charging station in India


दोस्तों हम इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन के फ्यूचर की बात करें तो अभी वर्तमान में इसका इसको बहुत कम है। लेकिन आने वाले समय में इसका बहुत ही ज्यादा स्कोप होने वाला  है। क्योंकि पेट्रोल डीजल की गाड़ियों को बंद किया जाए तो आप इसी बात से आईडिया लगा सकते हैं की चार्जिंग स्टेशन का कितना स्कोर है।
और दोस्तों जनसंख्या बढ़ने के साथ-साथ ही प्रदूषण भी बढ़ रहा है  तो फ्यूचर स्कोप बहुत अच्छा है।

दुनिया में जितने भी देश है,सभी इलेक्ट्रिक वाहनों पर जोर दे रहे हैं। ओर जाहिर सी बात है अगर इलेक्ट्रिक वाहन बढ़ेंगे तो चार्ज करने की जरूरत भी बढ़ेगी तो चार्जिंग स्टेशन की डिमांड भी बढ़ेगी।

सेंट्रल सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों खरीदने वालों को सब्सिडी भी दे रही है। जिसे आप दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन खरीदते हैं। तो आपको 15% सब्सिडी दी जाएगी जो कि दिल्ली सरकार की तरफ से यानी कि राज्य सरकार की तरफ से सब्सिडी भी दी जा रही है। इसके अलावा भारत में मुंबई, पुणे, अहमदाबाद, बेंगलुरु आदि शहरों में भी इलेक्ट्रिक वाहनों पर सब्सिडी दी जा रही है। ताकि ज्यादा लोग इलेक्ट्रिक वाहनों का उपयोग करें। जिससे पर्यावरण प्रदूषण को कम किया जा सकता है।

मैं आपको एक रिपोर्ट के आधार पर बताना चाहूंगा कि अभी तक दो पहिए इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीदी संख्या एक लाख 26 हजार हो गई है। वही थ्री व्हीलर वाहनों की संख्या 630000 के पार पहुंच गई है। और अगर  हम चार पहिए इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या की बात करें तो 36 सौ है। यह आंकड़ा 2019 के आधार पर बताया गया है। अगर आप इसका फ्यूचर देखे तो भारत सरकार का दावा है, कि आने वाले 10 सालों में मतलब 2030 तक 30% देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या होगी।

तो हम इस बात से मान सकते हैं कि अभी तो इसका स्कोप कम है लेकिन आने वाले सालों में बहुत बढ़िया स्कोप रहेंगे, इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन का। 

Cost of electric charging station in India

इसमें आपको तीन फास्ट चार्जिंग मशीन लेनी पड़ेगी और दो स्लो चार्जिंग मशीन लगानी होगी।

3 fast charging machine

Ccs 50k wh- 750000

Cha demo 50k wh- 750000

Type 2 AC 22k wh- 150000

तो आपको ये तीन फास्ट चार्जिंग मशीन 16-20 लाख रुपए की पड़ने वाली है। इसके बाद आती है दो स्लो चार्जिंग स्टेशन।

Bharat DC 002 15k wh- 250000

Bharat AC 001 10k wh- 75000

 के तो आपको ये दोनों स्लो चार्जिंग मशीन तीन से चार लाख रुपए के आसपास मिल जाएगी। कुल मिलाकर आपको पांचों चार्जिंग मशीन की कॉस्ट 25 लाख रुपए तक आ सकती है।

ओर दोस्तो हम बात करते हैं इसके अलावा क्या क्या खर्चे आएंगे। 


Other cost for electric charging station in India

ट्रांसफार्मर, इलेक्ट्रिक कनेक्शन, ट्रांसमिशन, ब्रकर्स आदि पांचों चार्जिंग मशीन को छोड़कर इन का कॉस्ट आपको सात लाख रुपए तक आ सकता है।

इसके अलावा भी आप लोगों को जमीन का किराया देना है। अगर आपकी खुद की जमीन हो तो अच्छी बात है। लेकिन अगर किसी से रेंट पर लेते हैं तो 20 से 50 हजार रुपए पर महीने देने पड़ सकते हैं। इसके अलावा स्टेशन की ब्रांडिंग करनी होगी जिस का खर्चा इन सब को मिलाकर दो से तीन लाख का खर्चा  हो सकता है। इसके अलावा दोस्तों आपको एक इलेक्ट्रिक सॉफ्टवेयर मैनेजर की जरूरत पड़ने वाली है जिसको आपको 1 साल का ₹100000 देना होगा।

ओर एक टेक्नीशियन वर्कर की जरूरत पड़ने वाली है जिसको बीस हजार महीने देने पड़ेंगे। इसके अलावा आपको एक वर्कर भी रखना होगा जिसकी कॉस्ट 15 हजार महीने देनी होगी। 

अगर दोस्तो हम सारी कॉस्ट को जोड़े तो लगभग 30 से 35 लाख में आप एक इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोल सकते हैं। 

एक चार्जिंग स्टेशन से कितनी इनकम होती है?

हमने एक चार्जिंग स्टेशन को खोलने का खर्चा तो जान लिया है अब हम बात करते हैं कि हम एक चार्जिंग स्टेशन से कितनी कमाई कर सकते हैं। तो दोस्तो में आपको बताना चाहूंगा कि अगर आप किसी हाई वे या फिर बड़े शहरों में अपना चार्जिंग स्टेशन ओपन करते हैं तो आप एक चार्जिंग स्टेशन से आप सालाना 1662750 रुपए की कमाई कर सकते हैं। सभी खर्चों को निकालने के बाद।

इलेक्ट्रिक चार्जिंग मशीन कहां से खरीदे ?

आप लोगों को मैं बताना चाहूंगा की आप इलेक्ट्रिक मशीन खरीदने के लिए indiamart.com पर जाकर सर्च कर सकते हैं। जहां पर आपको बहुत सारी कंपनी की मशीन मिल जाएगी। आपको पूरे भारत में कहीं भी हो आपको सप्लाई कर दी जाएगी आप indiamart.com पर near by search कर सकते हैं। इंडियामार्त  पर कॉल का ऑप्शंस भी मिल जाएगा जहां से आप अच्छी खासी जानकारी लेकर ही किसी भी मशीन को खरीदे। आप मशीन की पूरी डिटेल्स ले सकते।

Conclusion


उम्मीद करते हैं आपको how to open an electric car charging station in India के बारे में यह महत्वपूर्ण जानकारी अच्छी लगी होगी। अंत में यही कहना चाहूंगा कि इलेक्ट्रिक चार्जिंग बिजनेस की अभी डिमांड बहुत कम है, लेकिन आने वाले समय में यह एक profitable business ideas साबित होने वाला है। अगर आप का कोई सवाल है तो आप कमेंट जरुर करें।